बच्चों द्वारा पपेट और कहानी बनाना, संवाद लेखन व प्रस्तुतिकरण

आज कक्षा में कहानी बनाओ कार्यशाला आयोजित की गई जिसमें परस्पर विचारों के आदान प्रदान से एक कहानी बना ली गयी।

एक दिन पहले मैंने कक्षा में बच्चों के बीच शेर व लोमड़ी के पपेट बनाए थे जिसे देख कर बच्चों ने अपनी कल्पना से स्वयम अपने पात्र व अपने पपेट बनाए जिसपर हमलोग ने कहानी बनाई।

मजे की बात है कि llf कोर्स में बताए गए GRR मॉडल के अनुसार चार चरणों वाली क्रियाविधि स्वतः घटित हुई।

मैं करता हूँ

हम मिल करते हैं

बच्चे आपस मे मिल कर करें

बच्चे स्वयम करें।

और आश्चर्य जनक परिणाम सामने आए।

बच्चो द्वारा किये गए प्रदर्शन का वीडियो you tube लिंक प्रस्तुत है

Jai shekhar

jai.shekhar

Working as a language teacher, my experience with LLF is great, as I have learnt lots of skills and techniques to teach language and make the learning process more upgraded, more practical and more familiar. I have found lots of positive results working with students, after this course.

You may also like...

1 Response

  1. Aarti Sethi Aarti Sethi says:

    Wow..bhut bdia…puppet aur abhney ke sangam se baccho ko abhiwykti ke awsar dekar bhasha shikshan ko bhut ruchikar bnaya ja skta h… bhut srahniye paryas jai shekhar ji

Leave a Reply